Inauguration Of One Gas Agency In Rural Area Lighten Up More Than Twenty Villages

सांसद रमेश कौशिक ने कहा कि  प्रधानमंत्री उज्जवला योजना गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लोगों के लिए वरदान है। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय इस योजना का कार्यान्वयन कर रहा है। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना स्वच्छ इंधन बेहतर जीवन का आधार है। सांसद श्री कौशिक गांव जुंआ में सोनीपत खानपुर रोड़ स्थित जांगड़ा भारतगैस के शुभ मुहर्त पर पर उपस्थितगण को संबोधित कर रहे थे।
इस  अवसर पर  जांगड़ा भारतगैस  गैंस एजेंसी के मालिक पूनम जाले व सतीश जाले ने आस पास के दर्जनो गाँवों से आयी 60 बीपीएल महिलाओं को घरेलू गैस कनेक्शन के किट एवं दस्तावेज वितरित किए गए। उन्होंने कहा कि जुआं गाँव में एजेंसी खुलने से दर्जनो गाँवों को सीधे फायदा मिला है, पहले ये सभी गाँव 15 किलोमीटर दूर सोनीपत से सिलेंडर लाते थे। उनकी इस परेशानी को समझते हुए इस सुविधा का लाभ दिया, ताकि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी  जी का स्वच्छ ईंधन, बेहतर जीवन का सपना पूरा हो सके।  उन्होंने कहा कि इस तरह की जनउपयोगी सुविधाएं आने से इस ग्रामीण क्षेत्र का विकास होगा और लोगो का सामाजिक और आर्थिक स्तर सुधरेगा।
भाजपा प्रेदश प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव जैन ने कहा कि धानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, जन धन योजना, सुकन्या समृद्धि योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, अटल पेंशन योजना, दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के बाद उज्जवला योजना शुरू की गई है।
इस अवसर पर पिछड़ा वर्ग कल्याण निगम के चयेरमैन रामचंद्र जांगड़ा ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार की नीतियों की सराहना करते हुए कहा कि उज्जलवा योजना से गरीब परिवार के लोगों को गैस कनेक्शन मिल जाने पर महिलाओं को लकड़ी और कंडों से चूल्हे पर खाना बनाने से मुक्ति मिल सकेगी। इससे गरीब परिवार की महिलाओं के जीवन मे खुशहाली आएंगी। उन्होंने कहा कि सरकार की योजनााओं का लाभ देश व प्रदेश के अंतिम छोर पर बैठे हुए हर व्यक्ति को मिले इसके लिए सरकारकृत संकल्प है।
इस अवसर पर भारत पेट्रोलियम के विपणन अधिकारी रोहित सेठी ने प्रधानमंत्री उज्जलवा योजना पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह योजना एक धुँआरहित ग्रामीण भारत की परिकल्पना करती है और वर्ष 2019 तक 5 करोड़ परिवारों, विशेषकर गरीबी रेखा से नीचे रह रही महिलाओं को रियायती एलपीजी कनेक्शन उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखती है। योजना से एलपीजी के उपयोग में वृद्धि होगी और स्वास्थ्य संबंधी विकार, वायु प्रदूषण एवं वनों की कटाई को कम करने में मदद मिलेगी।
आस पास के कई गाँवों के सरपंचो ने सांसद महोदय को पत्र देकर कहा कि उनके गाँव में पहले सोनीपत और फरमाना से गैस सप्लाई थी, क्योकि अब नजदीक में ही गैस एजेंसी आ गई है तो उनके गाँवों के कनेक्शनों को यहाँ पर जोड़ा जाए,  मौके पर ही मौजूद कुछ लोगो ने कहा कि जिन उज्ज्वला स्कीम के तहत सिर्फ महिलाओ को गैस कनेक्शन दिए जा रहे है, जिन घरो में कोई 18  साल से ऊपर महिला नहीं है, उनको गैस कनेक्शन नहीं मिल रहा.

0 comments:

Post a Comment